Search latest news, events, activities, business...

Sunday, June 18, 2017

एमसीडी के ट्रकों के लिए तरपैल की व्यवस्था करें !


थोड़े दिन पहले की बात है कि मैं अपने परिवार के साथ द्वारका से तुग़लकाबाद जा रहा था और जब हम हौज़ खास पहुँचे तो दिल्ली म्युनिसिपल कारपोरेशन का कूड़ा लेकर जाता हुआ एक ट्रक हमारे आगे आ गया ! जैसे २ उस ट्रक के ड्राइवर ने अपनी स्पीड बढ़ाई , ट्रक में भरा हुआ कूड़ा भी ट्रक से उड़ने लगा , यह दृश्य देखने को तो गन्दा लग ही रहा था , साथ २ ट्रक से उड़ता हुआ कूड़ा कर्कट सड़क पर और इधर उधर फैलता जा रहा था ! क्योंकि हमलोग तो गाड़ी में जा रहे थे , उस उड़ते हुए कूड़े कर्कट की बदबू तो हमें नहीं आई , मग़र यह दृश्य सड़क पर चलने वाले अनेकों लोगों के लिए बड़ा ही घटिया और परेशान करने वाली बदबूनुमा हो गया ! सभी लोग या तो किसी तरह उस ट्रक से आगे निकलने का प्रयास करने लग गए या फिर उन्होंने ट्रक से अपनी दूरी ज़्यादा बढ़ाने लग गए ! यहॉँ एक तरफ़ तो सरकार हमेशा साफ़ सफ़ाई रखने के लिए समाचार पत्रों और टीवी में विज्ञापनों के ज़रिये इसपे इतना ज़ोर दे रही है और बहुत से लोग इस मुहिम में सरकारी एजेंसियों से सहयोग भी कर रही हैं , वहीं पर ट्रक से उड़ता हुआ कूड़ा करकट सरकार द्वारा चलाए जा रहे सफ़ाई अभियान का एक तरह से मज़ाक ही उड़ा रहा था !

इस घटना के बारे में लिखने का मेरा मतलब यही है कि दिल्ली में एमसीडी की तीनों ब्रांचों / उनके अधिकारियों से मेरा अनुरोध है कि ऐसे कूड़ा लेजाने वाले प्रत्येक ट्रक के लिए एक - २ तरपैल भी प्रदान की जानी चाहिए, ताकि कूड़ा उठाकर उसे निपटाने वाली जगह पर छोड़ने के वक़्त उस ट्रक में जा रहे सफ़ाई कर्मचारी कूड़े के ऊपर वोह तरपैल डालकर ही लेजाएं और सड़क पर चलने वाले अन्य लोगों के लिए ऐसी घटना किसी भी तरह की परेशानी का कारण ना बने ! और ऐसा करने से जगह -२ कूड़े की वजह से फ़ैलने वाली बदबू और बेवजह की बिमारियों से भी निज़ात मिल जाएगी ! 

आर डी भारद्वाज "नूरपुरी "

Thanks for your VISITs

 
How to Configure Numbered Page Navigation After installing, you might want to change these default settings: